img-book
ISBN: 978-9386474841

जर्नी फ्रॉम मिडिल-क्लास टू मिलियनेयर: पहचानिए अपने अन्दर के करोड़पति को

by: Durgesh Tripathi

इस पुस्तक का उद्देश्य हर सामान्य मध्यमवर्गीय परिवार के लोगों को यह याद दिलाना है, कि उनके भीतर भी करोड़पति बनने की क्षमता है । मैंने अपनी करियर/व्यावसायिक यात्रा को एक मध्यम वर्ग के रूप में शुरू किया और आज खुद को करोड़पति के रूप में देख रहा हूं । मध्यम वर्गीय परिवार/ मिडिल क्लास से करोड़पति/ मिलियनेयर बनने की यात्रा के दौरान मैं देश भर में लगभग एक दशक तक विभिन्न प्रकार के व्यक्तियों से रूबरू हुआ। मैं विभिन्न मान्यताओं और संस्कृतियों के लोगों से मिला, लेकिन मुझे सभी मध्यम वर्ग के परिवारों में एक चीज़ समान लगी। वह सभी विशाल क्षमता और पर्याप्त प्रतिभा से युक्त हैं लेकिन वह खुद को सीमित करते हैं ।  उनमें से अधिकांश कभी अपनी क्षमता का एहसास नहीं करते हैं और अपने सपनों को अपने साथ ही लेकर इस दुनिया से चले जाते हैं । इस पुस्तक को पढ़ने के बाद, आप वह बातें महसूस करेंगे कि आपको करोड़पति बनने के लिए क्या रोक रहा है । आपको इस पुस्तक में करोड़पति बनने के सात चरणों के बारे में और अपनी क्षमता को कैसे बढ़ाएं इस बारे में जानकारी प्राप्त होगी । आपको कई महान उदाहरण, नए विचार और कई प्रेरक उद्धरण/बातें मिलेंगी । आपको न केवल यह पता चलेगा कि कैसे अमीर बनना है,बल्कि अपने एकत्रित धन को अच्छी तरह से प्रबंधित कैसे करना है और इसे मल्टी मिलियन में कैसे विकसित करना है यह भी ज्ञात होगा । यह पुस्तक आपकी इस प्रकार मदद करेगी.. आपकी करोड़पति बनने की क्षमता का एहसास दिलाने में । एक करोड़पति बनने के लिए यह आपका स्टेप बाय स्टेप ब्लूप्रिंट है । अपने उद्देश्य को ढूंढना और सीमाओं से परे जीवन व्यतीत करना ।

199.00

Quantity:
Meet the Author
avatar-author
Durgesh Tripathi is a first generation self-made Millionaire. He is one of the highly successful entrepreneurs in Network Marketing industry in India. He belongs to a morally and spiritually rich but financially weak Middle-Class family. Since the year 2001, he has trained and inspired more than half a million people pan India and abroad. Durgesh Tripathi’s purpose is to inspire people to Be more, Achieve more and Live more. Training and Travelling is his passion. He is known for his highly impactful trainings, full of practical ideas, deep inspiration and fun. Reading, Writing, Meditation, Playing with Kids, Spending time with old aged people are his favourite ways of living his personal time. He calls it Me Time. He believes in Sanskrit phrase

“Vasudhaiv-Kutumbakam”

means "The world is a family.."

Books of Durgesh Tripathi
About This Book
Overview
  • Paperback: 86 pages
  • Publisher: MyBooks Publication (25 April 2018)
  • ISBN-10: 9386474840
  • ISBN-13: 978-9386474841
  • Package Dimensions: 22 x 14 x 1 cm

“जर्नी फ्रॉम मिडिल-क्लास टू मिलियनेयर: पहचानिए अपने अन्दर के करोड़पति को”

There are no reviews yet.